Saturday, September 19

छुना है! ( Chuna hai) || Real Zindagi

छुना है!

छुना है! मुझे अब कुछ तो छुना है| 
हर एक आसमाँ  को छूना है
उस आसमाँ की उम्मीद को छूना है
उस उम्मीद की किरणों पर खरा उतरना है| 

वक्त था बहुत सब बर्बाद कर दिया 
वो एक नासमझी थी जिसे मैंने अनदेखा कर दिया
वक्त तो अभी भी है पर समझ रहा हूं उसे 
वक्त तो आगे भी होगा पर शायद तब वो समझाये मुझे
इसीलिए इस विराग की राग को छूना है
उसकी आग से अपने अहं को डुबाोना है

बनना है कुछ साक्षात्कार उदाहरण, लिखना है, छाना है,
इस राग को गुनगुनाना है, बन गया वो कुछ, कर गया वो कुछ,
इस भ्रम को तोड़ना है,
और अपना जीवंत उदाहरण लोगों को सुनाना है
अपना जीवन उदाहरण लोगों को सुनाना है || 

Leave a Reply